उत्तराखंडी संस्कृति के ध्वज वाहकों के साथ सीएम ने मुलाकात ।

उत्तराखंडी संस्कृति के ध्वज वाहकों के साथ सीएम ने मुलाकात ।

 

 

हम सबको धरातल पर भी उसे मूर्त रूप देना होगा । जिसके लिए सरकार तेजी से प्रयास कर रही है और हर संभव सहयोग भी कर रही है । सीएम रावत ने कहा कि सरकार की मंशा को चरितार्थ करने के लिए ग्रामीण क्षेत्रों से जुड़े रचनात्मक लोगों को भी आगे आना होगा , और उत्तराखंड में सुंदर ग्रामीण पर्यटन को बढ़ावा देने के लिए आगे आना होगा । ऐसा करने से न सिर्फ बड़े स्तर पर रोजगार सृजन होगा बल्कि पलायन पर रोक लगेगी व पहाड़ छोड़ चुके लोग फिर अपने पहाड़ पर लौटने लगेंगे ….. 

 

पूजा डोरियाल Pooja Dobriyal । news . University . Srinagar . Uttarakhand . Shashi bhushan Maithani paras . Youth icon award . Media . Garhwal . गढवाल विश्वाविद्यालय की शैक्षणिक व्यवस्थाओं को जो सुधारना चाहते हैं उनके लिए इस विश्वाविद्यालय मे कोई जगह नही है। विश्वाविद्यालय मे कई असिस्टेंट प्रोफेसर, अतिथि शिक्षक हैं जो  शिक्षा के क्षेत्र मे जी-तोड़ मेहनत कर रहे हैं लेकिन ठेकेदारी मे लिप्त कर्मचारी, प्रोफेसर ऐसे शिक्षकों पर  भारी पड़ते दिख रहे हैं। शिक्षा के इस मन्दिर मे राजनीति अखाड़ा चलाने वाले कर्मचारी इतने हावी हो चुके हैं कि  लाॅ के प्रोफेसर, विक्रम युनिवर्सिटी के कुलपति पद पर बखूबी खरे उतरने वाले पूर्व कुलपति प्रो0 जे0एल0काॅल को भी विवि के कर्मचारियों  की राजनीति समझ नही आई।
पूजा दोरियाल 

दिल्ली राजपथ पर उत्तराखंड की लोक संस्कृति परम्पराओं और समाजशास्त्र की शानदार झलक को जिन कलाकरों ने देश और दुनियां के सामने प्रदर्शित किया आज उन्हें देहरादून में सूबे के मुख्यमंत्री त्रिवेन्द्र सिंह रावत से मुलाकात करने का भी गौरव मिला । बताते चलें इस बार 26 जनवरी के दिन सूचना उपनिदेशक के0 एस0 चौहान के नेतृत्व में उत्तराखंड से 34 सदस्यों ने राजपथ परेड में हिस्सा लिया था जिनसे आज साथ मुख्यमंत्री त्रिवेन्द्र रावत ने सचिवालय कैम्पस में स्थित मीडिया सेन्टर में भेंट की । इस वर्ष राजपथ पर उत्तराखंड पर्यटन को बढ़ावा देने के उद्देश्य से सरकार की अतिमहत्वाकांक्षी योजना ग्रामीण पर्यटन से जुड़ी होम स्टे को दर्शाती बेहद खूबसूरत झांकी को प्रदर्शित किया गया था ।

उत्तराखंडी संस्कृति के ध्वज वाहकों के साथ सीएम ने मुलाकात ।
प्रतिभागियों साथ  के साथ सीएम त्रिवेन्द्र रावत व सचिव सूचना पंकज पाण्डेय व अन्य  ।

मुख्यमंत्री ने दल के सदस्यों सहित टीम लीडर उप सूचना निदेशक के0 एस0 चौहान को बधाई देते हुए कहा कि उत्तराखंड की लोक संस्कृति और परंपराओं से जुड़ी झांकी राजपथ पर बेहद आकर्षक थी जो देश और दुनियां में मौजूद घुमक्कड़ों को आकर्षित कर रही थी । सीएम ने कहा कि राजपथ पर प्रदर्शित झांकी पर जिस प्रकार से ग्रामीण पर्यटन की तस्वीर को सजीव रूप दिया गया था अब उसी प्रकार हम सबको धरातल पर भी उसे मूर्त रूप देना होगा । जिसके लिए सरकार तेजी से प्रयास कर रही है और हर संभव सहयोग भी कर रही है । सीएम रावत ने कहा कि सरकार की मंशा को चरितार्थ करने के लिए ग्रामीण क्षेत्रों से जुड़े रचनात्मक लोगों को भी आगे आना होगा , और उत्तराखंड में सुंदर ग्रामीण पर्यटन को बढ़ावा देने के लिए आगे आना होगा । ऐसा करने से न सिर्फ बड़े स्तर पर रोजगार सृजन होगा बल्कि पलायन पर रोक लगेगी व पहाड़ छोड़ चुके लोग फिर अपने पहाड़ पर लौटने लगेंगे । मुख्यमंत्री ने कहा कि टिहरी, पिथौरागढ़ एवं लैंसडोन आदि स्थानों पर होम स्टे योजना के तहत अच्छे प्रयास किये जा रहे हैं , उन्होंने कहा कि उत्तराखंड में पर्यटन से स्वरोजगार का बहुत बड़ा स्कोप है । जिसे कि अब अधिसंख्य लोग समझने भी लगे हैं । अपने संबोधन में सीएम ने आगे कहा धारचूला से हर्षिल तक और नीति से लेकर कॉर्बेट तक प्रदेश का प्रत्येक हिस्सा दर्शनीय है । जिसका उपयोग ठीक से हमें ही करना आना चाहिए जो कि स्थानीय लोगों को कम खर्च पर अधिक आय देकर उनके भविष्य को सुरक्षा भी देगा ।

उत्तराखंडी संस्कृति के ध्वज वाहकों के साथ सीएम ने मुलाकात ।

मुख्यमंत्री त्रिवेन्द्र ने उत्तराखण्ड के सांस्कृतिक दल को देश में प्रथम 03 राज्यों में चुने जाने एवं पुरस्कृत किये जाने पर भी बधाई दी। राजपथ पर उत्तराखण्ड की झांकी में प्रतिभाग करने वाले कलाकारों ने राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद, प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी, उपराष्ट्रपति वैंकेया नायडू, रक्षामंत्री श्रीमती निर्मला सीतारमण एवं जनजातीय मंत्री जुएल ओराम से नई दिल्ली में भेंट की।
उत्तराखंड सचिवालय में स्थित मीडिया सेंटर में आयोजित कार्यक्रम में सचिव सूचना डाॅ.पंकज कुमार पाण्डेय ने कहा कि उत्तराखण्ड राज्य बनने के बाद से 17 सालों में 10वीं बार राजपथ पर उत्तराखण्ड की झांकी दिखाई गई। ग्रामीण पर्यटन एवं होम स्टे की थीम पर आधारित गढवाली म्यूजिक के साथ प्रदर्शित इस झांकी की विशिष्ट पहचान की काफी सराहना की गई । उन्होंने कहा कि नई दिल्ली में उत्तराखण्ड के सांस्कृतिक दल को गुजरात एवं महाराष्ट्र सांस्कृतिक दल के साथ सर्वश्रेष्ठ 03 सांस्कृतिक दलों में चुने जाने पर पुरस्कृत किया गया।
इस अवसर पर विधायक मुकेश कोली, मुख्यमंत्री के मीडिया सलाहकार रमेश भट्ट, मीडिया समन्यवक दर्शन सिंह रावत, अपर निदेशक सूचना डाॅ. अनिल चंदोला, संयुक्त निदेशक सूचना राजेश कुमार, उप निदेशक सूचना नितिन उपाध्याय आदि उपस्थित थे।

गोल्ड मेडल जीतने पर उत्तराखंड के अनु कुमार को सीएम की बधाई ।

मुख्यमंत्री त्रिवेन्द्र सिंह रावत ने राष्ट्रीय स्तर पर पहली बार आयोजित ‘‘खेलो इंडिया’’ नेशनल स्कूल गेम्स में उत्तराखण्ड के अनु कुमार को स्वर्ण पदम जीतने पर हार्दिक बधाई और शुभकामनाएं दी है और ईश्वर से उनके उज्ज्वल भविष्य की कामना की। उन्होंने आशा व्यक्त की कि इस प्रतियोगिता में उत्तराखण्ड को और सफलता मिलेगी।
मुख्यमंत्री त्रिवेन्द्र ने कहा कि इस आयोजन से खेलों की संस्कृति को बढ़ावा देने के साथ-साथ, नई प्रतिभाओं को आगे लाने में मदद करेगा। यह प्रतियोगिता नई प्रतिभाओं को तलाशने और तराशने का एक बहुत बड़ा माध्यम बनेगी।

By Editor

One thought on “Artists meet CM : उत्तराखंडी संस्कृति के ध्वज वाहकों के साथ सीएम ने मुलाकात ।”

Comments are closed.