देशभर के युवा जुटेंगे उत्तराखंड में । उत्तराखंड सरकार का युवाओं के लिए भव्य आयोजन । ◆ सेवा, संवाद और संकल्प होंगे मूलमंत्र स्वामी विवेकानंद की 157 वीं जयंती के अवसर पर, राज्य सरकार आयोजित कर रही है "उत्तराखंड यंग लीडर्स कॉन्क्लेव" । ◆ उत्तराखंड यंग लीडर्स कॉन्क्लेव में देशभर की शिक्षण संस्थानों के विद्यार्थी करेंगे प्रतिभाग । trivendra singh rawat

देशभर के युवा जुटेंगे उत्तराखंड में । उत्तराखंड सरकार का युवाओं के लिए भव्य आयोजन ।

◆ सेवा, संवाद और संकल्प होंगे मूलमंत्र स्वामी विवेकानंद की 157 वीं जयंती के अवसर पर, राज्य सरकार आयोजित कर रही है “उत्तराखंड यंग लीडर्स कॉन्क्लेव” ।

◆ उत्तराखंड यंग लीडर्स कॉन्क्लेव में देशभर की शिक्षण संस्थानों के विद्यार्थी करेंगे प्रतिभाग ।

देशभर के युवा जुटेंगे उत्तराखंड में । उत्तराखंड सरकार का युवाओं के लिए भव्य आयोजन । ◆ सेवा, संवाद और संकल्प होंगे मूलमंत्र स्वामी विवेकानंद की 157 वीं जयंती के अवसर पर, राज्य सरकार आयोजित कर रही है "उत्तराखंड यंग लीडर्स कॉन्क्लेव" । ◆ उत्तराखंड यंग लीडर्स कॉन्क्लेव में देशभर की शिक्षण संस्थानों के विद्यार्थी करेंगे प्रतिभाग । trivendra singh rawat

देहरादून 10 जनवरी,2020, Yi न्यूज़। 
स्वामी विवेकानंद जी की 157 वीं जयंती के अवसर पर, उत्तराखंड सरकार द्वारा उत्तराखंड यंग लीडर्स कॉन्क्लेव, 2020 का आयोजन ओएनजीसी ऑडिटोरियम, देहरादून में किया जा रहा है। मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत के निर्देश पर आयोजित हो रहे दो दिवसीय कार्यक्रम में राज्य और राष्ट्र के चारों ओर से आये हुए युवा और नवोदित बुद्धिजीवी वर्ग प्रतिभाग करेंगे। कान्क्लेव 11 व 12 जनवरी को आयोजित किया जा रहा है। उत्तराखंड यंग लीडर्स कॉन्क्लेव एक तीन सूत्रीय कार्यक्रम है और इसमें सेवा, संवाद और संकल्प को मूलमंत्र बनाया गया है। इसमें उत्तराखंड और भारत भर के विभिन्न प्रसिद्ध शिक्षण संस्थानों के 375 युवा छात्रों द्वारा प्रतिभाग किया जा रहा है।
उत्तराखंड यंग लीडर्स कॉन्क्लेव में उत्तराखंड के विकास के लिए महत्वपूर्ण क्षेत्रों पर चर्चा की जाएगी। इनमें मुख्यतः मानव संसाधन विकास, स्वास्थ्य, सूचना प्रौद्योगिकी, अवसंरचना और उद्योग के क्षेत्र शामिल हैं।
मुख्यमंत्री त्रिवेन्द्र सिंह रावत कार्यक्रम का उद्घाटन करेंगे। कार्यक्रम 11 जनवरी को प्रातः 11ः00 बजे प्रारम्भ होगा। जिसमें सर्वप्रथम उद्घाटन समारोह एवं प्रथम सत्र आयोजित होंगे। विशेषज्ञों की अध्यक्षता में तीन समानांतर सत्रों का आयोजन किया जाएगा। दूसरे दिन समापन सत्र में मुख्यमंत्री युवाओं से संवाद करेंगे। कार्यक्रम का समापन राज्य और राष्ट्र को उत्कृष्ट बनाने के लिए एवं अनुभव का उपयोग करने के संकल्प (शपथ) के साथ होगा। उत्तराखंड यंग लीडर्स कॉन्क्लेव के पीछे निहित सोच युवाओं के संवाद में प्राप्त ठोस और महत्वपूर्ण निष्कर्षों के उपरांत एक उपयुक्त मसौदा तैयार करना है। राज्य के भविष्य और उत्थान के लिए सबसे उत्साहजनक दृष्टिकोण वाले प्रतिनिधि को नीतीश्री की उपाधि से सम्मानित किया जाएगा ।

By Editor

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!