Shashi bhushan maithani paras , शशि भूषण मैठाणी पारस , यूथ आइकॉन , youth icon डॉ. महेश कुड़ियाल dr. Mahesh kuriyal CMI dehradun . Youth icon creative foundation health Unit gopeshwar joshimath . यूथ आइकॉन क्रिएटिव फाउंडेशन डिजिटल हेल्थ यूनिट गोपेश्वर जोशीमठ चमोली

Youth icon yi media logo . Youth icon media . Shashi bhushan maithani paras

आगामी 9 फरवरी गोपेश्वर तो 10 फरवरी को जोशीमठ में होंगे विशेषयज्ञ चिकित्सक ।

*यूथ आइकॉन की पहल पहाड़ी क्षेत्रों में विशेषज्ञ चिकित्सकों की मदद से होगी डिजिटल ओपीडी । 

*सीमांत जनपद में जाने-माने   न्यूरो विशेषज्ञ डॉ0 महेश कुड़ियाल करेंगे यूथ आइकॉन डिजिटल हेल्थ यूनिट का शुभारंभ ।

प्रकाश गौड़ prakash gaur युवा आह्वान youth icon yi national award
प्रकाश गौड़

गोपेश्वर,  सीमांत जनपद चमोली के लिए  यह पहला मौका होगा कि जब सुप्रसिद्ध न्यूरो विशेषज्ञ डॉक्टर महेश कुड़ियाल और उनकी टीम फरवरी माह में दो दिन के लिए जनपद चमोली में मौजूद रहेंगे । इस बात की जानकारी यूथ   आइकॉन क्रिएटिव फाउंडेशन के संस्थापक अध्यक्ष शशि भूषण मैठाणी पारस ने दी है ।

Shashi bhushan maithani paras , शशि भूषण मैठाणी पारस , यूथ आइकॉन , youth icon डॉ. महेश कुड़ियाल dr. Mahesh kuriyal CMI dehradun . Youth icon creative foundation health Unit gopeshwar joshimath . यूथ आइकॉन क्रिएटिव फाउंडेशन डिजिटल हेल्थ यूनिट गोपेश्वर जोशीमठ चमोली

यूथ आइकॉन से जुड़े हुए मुझे भी 6 साल हो गए हैं । और जिस तरह से संस्था द्वारा पहाड़ों में चिकित्सा के क्षेत्र में कार्य करने की योजना तैयार की गई है उसमें सेवा देने का मुझे भी मौका मिलेगा जिसकी मुझे बहुत खुशी होगी । दरअसल मैठाणी जी लम्बे समय से चिकित्सा के क्षेत्र में सोशल हेल्थ यूनिट स्थापित करने की योजना बना रहे हैं, उन्होंने मुझसे सहयोग की अपील की तो मैंने भी उन्हें पूरी सेवाभाव से कार्य करने का भरोषा दिया है । निःसंदेह स्वास्थ्य के क्षेत्र इस तरह  की रचनात्मक पहल से बीमार व गरीबों को  फायदा मिलेगा ।

डॉ0 महेश कुड़ियाल, न्यूरो सर्जन । Dr. MAHESH KURIYAL CMI DEHRADUN UTTARAKHAND

डॉ. महेश कुड़ियाल
न्यूरोसर्जन एवं प्रबंध निदेशक
सी एम आई अस्पताल देहरादून ।

श्री मैठाणी ने बताया कि यूथ आइकॉन अपने सामाजिक कार्यों के क्षेत्र में विस्तारपूर्वक कार्य करने जा रहा है इसी क्रम में इसकी शुरुआत यूथ आइकॉन क्रिएटिव फाउंडेशन की हेल्थ यूनिट के तहत जनपद चमोली मुख्यालय गोपेश्वर से की जा रही है ।
शशि भूषण ने बताया यूथ आइकॉन सभी पर्वतीय जनपदों में हेल्थ यूनिट स्थापित करेगा । और इसके तहत समय समय पर विशेषज्ञ चिकित्सकों को पर्वतीय जिलों में कैम्प करवाया जाएगा । इसी क्रम में आगामी 9 व 10 फरवरी को न्यूरो  विशेषज्ञ डॉ. महेश कुड़ियाल प्रबंध निदेशक सी एम आई अस्पताल देहरादून के नेतृत्व में गोपेश्वर व जोशीमठ में सामाजिक स्वास्थ्य सेवा शिविर का आयोजन किया जा रहा है ।

 

उन्होंने बताया कि उक्त शिविर में निःशुल्क ओपीडी होगी, साथ ही जरूरतमंदों को निःशुल्क दवा भी वितरित  की जाएगी ।
श्री मैठाणी ने बताया कि हेल्थ यूनिट स्थापित करने का एकमात्र  मकसद यह है कि आने वाले समय में पर्वतीय क्षेत्रों में मरीजों को महज संदेह की स्थिति में ही सैकड़ो किलोमीटर का सफर  कई घंटो में तय कर पहाड़ से मैदान पर उतरने की आवश्यकता न पड़े । यूथ आइकॉन हेल्थ यूनिट से जुड़े लोगों को बहुत जल्दी वीडियो कॉन्फ्रेंस या वीडियो कॉल के मार्फ़त आसानी से अपने विशेषज्ञ चिकित्सकों से संवाद स्थापित करने की सुविधा मिल सकेगी जो कि पूर्णतः निःशुल्क होगी ।
शशि भूषण ने बताया कि ऐसा करने से बीमारी की पड़ताल में पहाड़ से मैदान उतरने वाले लोगों को न सिर्फ अपने द्वार पर ही विशेषज्ञ डॉक्टर की ऑनलाइन लाइव ओपीडी मिलेगी बल्कि आर्थिक रूप से परेशान व बीमारी से पीड़ितों का समय व पैसा भी बचेगा । बहुत गंभीर समस्या होने पर ही चिकित्सक द्वारा पीड़ित बीमार को किसी अन्य सेंटर पर जाने की सलाह दी जाएगी ।

ऐसे काम करेगी यूथ आइकॉन डिजिटल हेल्थ यूनिट : 

सुदूरवर्ती पर्वतीय क्षेत्रों में यूथ आइकॉन डिजिटल हेल्थ यूनिट स्थापित होगी जिसमें स्थानीय स्तर पर स्वयंसेवक सदस्य होंगे यूनिट में स्थानीय चिकित्सक सेवारत या सेवानिवर्त को शामिल किया जाएगा । सप्ताह किसी भी एक दिन यूनिट द्वारा डिजिटल OPD आयोजित की जाएगी जिसमें स्थानीय चिकित्सक को आवश्यक रूप से शामिल किया जाएगा फिर स्थानीय चिकित्सक की मदद से मरीज की समस्या को  सैकड़ों किलोमीटर दूर बैठे विशेषज्ञ चिकित्सक वीडियो कॉल या कांफ्रेंस के मार्फ़त मरीज से पूछताछ करेंगे व उसका स्वास्थ्य परीक्षण करेंगे जिसके बाद तकलीफ से संदर्भित दवाइयां बताई जाएंगी यदि बहुत गंभीर समस्या होगी तो ही पहाड़ से मरीज को किसी हायर सेंटर में जाने की सलाह दी जाएगी । यदि बताई गई दवाईयां पहाड़ो पर उपलब्ध नहीं होगी तो मरीज अपनी दवाई 24 घण्टे के भीतर देहरादून से अपने किसी परिचित या फिर यूथ आइकॉन के वोलियंटर्स के मार्फ़त मंगवा सकता है ।
ओपीडी के बाद यूथ आइकॉन हेल्थ यूनिट के सदस्य बराबर मरीज से फीड बैक लेते रहेंगे और प्राप्त जानकारी विशेषज्ञ चिकित्सक के साथ डिस्कस करते रहेंगे । और सरकार से परामर्श कर आगे और कार्य करते रहेंगे ।

दरअसल मैं हर रोज अलग अलग  डॉक्टरों के साथ OPD के समय में बैठता हूँ । जब लगातार 3 – 4 वर्षों से मैंने ये देखा कि पहाड़ से लोग बीमारी गंभीर न होने की दशा में भी उचित परामर्श न मिलने के कारण हजारों रुपया खर्च करके देहरादून आ जाते हैं । जबकि गंभीर रूप से बीमार केवल 100 में से लगभग 5 से 7 ही होते हैं । फिर इसी सोच के क्रम में मैंने इस अभियान की शुरुआत करने की ठानी, फिर डॉ0 कुड़ियाल , डॉ0 आर0 के0 जैन एवं डॉ0 सुमिता प्रभाकर सहित अन्य अपने परिचित विशेषज्ञ चिकित्सकों से इस बात का जिक्र किया और स्वास्थ्य से जुड़े इस पुण्य कार्य में सहयोग की मांग की तो सभी ने आश्वासन दिया कि वह यूथ आइकॉन के इस सोशल हेल्थ यूनिट को पूरा व निःशुल्क सहयोग भी करेंगे । अब  इसी क्रम में पहले चरण की शुरुआत और डिजिटल हेल्थ यूनिट की दो ईकाई के उदघाट्न के लिए जाने माने न्यूरो विशेषज्ञ डॉ.  महेश कुड़ियाल को 9 फरवरी  गोपेश्वर और 10 फरवरी जोशीमठ में आमंत्रित किया गया है ।  फिर अगले चरण में टिहरी , रुद्रप्रयाग व अल्मोड़ा के लिए यूनिट तैयार की जा रही है ।Shashi bhushan maithani paras , शशि भूषण मैठाणी पारस , यूथ आइकॉन , youth icon

शशि भूषण मैठाणी पारस , संस्थापक, अध्यक्ष
“यूथ आइकॉन क्रिएटिब फाउण्डेशन”

 

By Editor