Youth icon yi Media logoBirla Campus : रद्द होंगे बिडला परिसर के अधिकांश नामंकन !

Pankaj mandoli , Srinagar , Yi Report
Pankaj mandoli , Srinagar , Yi Report
 केन्द्रीय विश्वविद्यालय के मुख्य बिडला परिसर के छात्र संघ चुनाव में एक दर्जन से अधिक प्रत्याशियों के नामकंन पर लिंगदोह की तलवार लटकने वाली है।
केन्द्रीय विश्वविद्यालय श्रीनगर के मुख्य बिडला परिसर के छात्र संघ चुनाव में एक दर्जन से अधिक प्रत्याशियों के नामकंन पर लिंगदोह की तलवार लटकने वाली है।

श्रीनगर , उत्तराखंड के एक मात्र केन्द्रीय विश्वविद्यालय के मुख्य बिडला परिसर के छात्र संघ चुनाव में एक दर्जन से अधिक प्रत्याशियों के नामकंन पर लिंगदोह की तलवार लटकने वाली है।

इससे नियमों को ताक पर रख चुनाव प्रचार करने वाले अध्यक्ष से लेकर महासचिव सहित तमाम पदांे के दावेदारों के नामकंन निरस्त होने के आसार नजर आ रहे हैं।

दरअसल इन दिनों बिडला परिसर में छात्र संघ का चुनाव चल रहा है। जिसमें बडी संख्या में धन बल का प्रयोग कर प्रचार प्रसार हो रहा है। छात्र राजनीति में बढते धन बल एवं हुडदंग को कम करने के लिए लिंगदोह ने विभिन्न नियम छात्र संघ चुनाव संपन्न करवाने के लिए दिये हैं। जिसके आधार पर छात्र संघ चुनाव संपन्न करवाना होता है लेकिन पिछले कुछ वर्षों से बिडला परिसर का माहौल लगातार बिगडता जा रहा है। एक छोटे से पद का उम्मीदवार हजारों की तादाद में पैसा खर्च कर रहा है।

बडी संख्या में धन बल का प्रयोग कर प्रचार प्रसार हो रहा है। छात्र राजनीति में बढते धन बल एवं हुडदंग को कम करने के लिए लिंगदोह ने विभिन्न नियम छात्र संघ चुनाव संपन्न करवाने के लिए दिये हैं। जिसके आधार पर छात्र संघ चुनाव संपन्न करवाना होता है लेकिन पिछले कुछ वर्षों से बिडला परिसर का माहौल लगातार बिगडता जा रहा है। एक छोटे से पद का उम्मीदवार हजारों की तादाद में पैसा खर्च कर रहा है।
परिसर में भारी धन बल का प्रयोग कर प्रचार प्रसार हो रहा है। छात्र राजनीति में बढते धन बल एवं हुडदंग को कम करने के लिए लिंगदोह ने विभिन्न नियम छात्र संघ चुनाव संपन्न करवाने के लिए दिये हैं। जिसके आधार पर छात्र संघ चुनाव संपन्न करवाना होता है लेकिन पिछले कुछ वर्षों से बिडला परिसर का माहौल लगातार बिगडता जा रहा है। एक छोटे से पद का उम्मीदवार हजारों की तादाद में पैसा खर्च कर रहा है।
    दरअसल मानव संसाधन विकास मंत्रालय ने भारत सरकार की पहल पर छात्र संघ चुनाव में सुधार हेतु 2005 में पूर्व मुख्य चुनाव अयुक्त जेम्स माईकल लिंगदोह के नेतृत्व में एक कमेटी बनायी। इस कमेटी ने छात्र संघ चुनाव में सुधार  के लिए कई नियम लागू किये। जिसे भारत सरकार ने जैसे के तैसे अपना लिया व सुप्रीम कोर्ट के आदेश के अनुसार 2006 से इसे सारे विश्वविद्यालयों में लागू कर दिया गया।

 अब लिंगदोह के नियमों का हवाला देते हुए गढ़वाल विश्वविद्यालय के शोध छात्र नवीन प्रकाश नौटियाल ने चुनाव के दौरान सभी प्रत्याशियों की रिकार्डिंग की है। जिसमे उन्होंने

उम्मीदों पर फिर सकता है पानी
उम्मीदों पर फिर सकता है पानी

छात्र नेताओं के चुनाव प्रचार, चुनाव सामग्री, जनसभाओं सहित अन्य कई बातों को कोड कर इसे छात्र संघ चुनाव अधिकारी को सौंपा है। नौटियाल ने दावा किया है अधिकांश प्रत्याशियों ने सर्वोच्च न्यायालय की अवहेलना की है और लिंगदोह के नियमों को ताक पर रखा है। ऐसे में इन प्रत्याशियों के नामकंन रद्द हो सकते है। उन्होंने कहा कि अगर इस पर कार्यवाही नहीं हुई तो वे न्यायालय की सरण लेंगे। वहीं मुख्य चुनाव अधिकारी प्रो एसएस रावत ने बताया कि उन्हें इस संदर्भ के दस्तावेज मिले है। जिस पर जल्द कार्यवाही होगी। अब ऐसे में देखना होगा अगर नवीन प्रकाश नौटियाल के दावे सहीं साबित हुए तो बिडला परिसर में कई छात्र नेताओं के नामकंन रद्द हो सकते है।

*पंकज मैंदोली

Copyright: Youth icon Yi National Media, 20.08.2016

यदि आपके पास भी है कोई खास खबर तोहम तक भिजवाएं । मेल आई. डी. है – shashibhushan.maithani@gmail.com   मोबाइल नंबर – 7060214681 , 9756838527  और आप हमें यूथ आइकॉन के फेसबुक पेज पर भी फॉलो का सकते हैं ।  हमारा फेसबुक पेज लिंक है    https://www.facebook.com/YOUTH-ICON-Yi-National-Award-167038483378621/

यूथ  आइकॉन : हम न किसी से आगे हैंऔर न ही किसी से पीछे ।

By Editor

One thought on “Birla Campus : रद्द होंगे बिडला परिसर के अधिकांश नामंकन !”
  1. पंकज मैंदोली जी आज के समय मे हर व्यक्ति किसी तरह भी अपने लक्ष्य को पाना चाहता है, यह उसी का नतीजा है।

Comments are closed.