Canprotect Foundation की शानदार पहल ! उत्तराखंड में आरम्भ होगी अत्याधुनिक स्तन कैंसर स्क्रीनिंग सॉफ्टवेयर लॉंच । सूबे की महिलाओं को मिलेगा लाभ ।

Canprotect Foundation की शानदार पहल ! उत्तराखंड में आरम्भ होगी अत्याधुनिक स्तन कैंसर स्क्रीनिंग सॉफ्टवेयर लॉंच । सूबे की महिलाओं को मिलेगा लाभ ।

  • अभी तक दूर-दूर तक नहीं थी यह सुबिधा ।

  • उत्तराखंड व आसपास के राज्यों में होगी यह पहली हाईटेक तकनीकी ।

  • राज्य में लगने जा रहे इस पहले उपकरण से अब शीघ्र पता चल सकेगा स्तन कैंसर जैसी गंभीर बीमारी का ।

  • स्तन कैंसर स्क्रीनिंग सॉफ्टवेयर यह बिना अंग को छूए तीन फीट की दूरी से स्तन कैंसर की जांच करने में सक्षम । 

shashi bhushan maithani paras editor and director Youth icon yi national media
Shashi Bhushan Maithani Paras 

देहरादून, अब स्तन कैंसर की जांच के लिए उत्तराखंड की महिलाओं को दर-बदर नहीं भटकना पड़ेगा । प्रदेश की राजधानी देहरादून में ही अब मरीजों को इस गंभीर बीमारी का पता आसानी पलभर में लग सकेगा । Canprotect Foundation की इस शानदार पहल से अब महिलाओं को बहुत बड़ी राहत मिलेगी ।
उक्त उपकरण महिलाओं में तेजी से फैल रहे स्तन कैंसर की प्रारंभिक दिनों में जाँच व उनके जीवन को बचाने में बहुत महत्वपूर्ण है । बताते चलें कि निरामय ने हाल ही में एक विशेष “स्तन कैंसर स्क्रीनिंग सॉफ्टवेयर” लॉंच किया है । जो स्तन कैंसर जांचने में सक्षम है । सबसे खास बात यह कि “स्तन कैंसर स्क्रीनिंग सॉफ्टवेयर” एक ऐसी तकनीकी है जो महिलाओं के अंग को छूए बिना ही तीन फीट की दूरी से “स्तन कैंसर” की जांच करने में सक्षम । यह गैर-संपर्क, कम लागत, उपयोग में आसान, विकिरण रहित, व एक बेहद पोर्टेबल तरीका है ।

Canprotect Foundation की शानदार पहल ! उत्तराखंड में आरम्भ होगी अत्याधुनिक स्तन कैंसर स्क्रीनिंग सॉफ्टवेयर लॉंच । सूबे की महिलाओं को मिलेगा लाभ ।
उत्तराखंड में आरम्भ होगी अत्याधुनिक स्तन कैंसर स्क्रीनिंग सॉफ्टवेयर लॉंच । सूबे की महिलाओं को मिलेगा लाभ ।

“स्तन कैंसर स्क्रीनिंग सॉफ्टवेयर” निरामय द्वारा विकसित समाधान FDA द्वारा स्वीकृत थर्मल सेंसर पर आधारित कैंसर स्क्रीनिंग उपकरण है । इसकी खासियत यह है कि इस उपकरण को मरीज से 3 फीट की दूरी पर रखा जाता है, जिसके बाद यह मशीन अपनी विशेष सोफ्टवेयर तकनीक Thermalytix © का उपयोग कर स्वत: ही महिलाओं में स्तन कैंसर का पता आसानी से लगाने में पूर्ण रूप से सक्षम है ।
मैमोग्राफी की तुलना में यह इमेजिंग पद्धति विकिरण मुक्त, गैर-स्पर्श, दर्द-रहित है और सभी उम्र की महिलाओं के लिए काम करती है । यह तकनीक आर्टिफिशल इंटेलिजेंस पर आधारित है जो विश्वसनीय और सटीक जांच के लिए इमेज प्रोसेसिंग का उपयोग करती है। यह अनूठा समाधान नियमित स्वास्थ्य जांच और बड़े पैमाने पर स्क्रीनिंग के लिए भी अनुकूल बताई जा रही है । जिसकी कुछ खासियत निम्नवत हैं –

पोर्टेबल उपकरण –

निरामय द्वारा उपयोग किए जाने वाले थर्मल कैमरा को सामान्य बैग पैक में किसी भी स्थान पर ले जाया जा सकता है। और बहुत सीमित स्थान में स्थापित किया जा सकता है।

• विश्वसनीयता –

यह 40 साल से कम उम्र की महिलाओं के लिए स्क्रीनिंग का भी एक विश्वसनीय तरीका है, जहाँ मैमोग्राफी कैंसर का पता लगाने के लिए अच्छी तरह से सक्षम नहीं है।

• सुरक्षा –

थर्मैटिक्स किसी भी रूप के विकिरण का उपयोग नहीं करता है, और इसलिए, पूरी तरह से सुरक्षित है ।

• गैर-संपर्क –

थर्मलिक्स को रोगी को छुआ जाने की आवश्यकता नहीं है। इस उपकरण को रोगी से 3 फीट दूर रखा जाता है और फिर जांच के दरमियान कोई भी जांचकर्ता या उपकरण (मशीन) मरीज के अंग को स्पर्श नहीं करता है ।

              -: स्तन कैंसर की नि:शुल्क : जांच आज से  देहारादून में :- 

Canprotect Foundation की शानदार पहल ! उत्तराखंड में आरम्भ होगी अत्याधुनिक स्तन कैंसर स्क्रीनिंग सॉफ्टवेयर लॉंच । सूबे की महिलाओं को मिलेगा लाभ ।
Canprotect Foundation की शानदार पहल ! उत्तराखंड में आरम्भ होगी अत्याधुनिक स्तन कैंसर स्क्रीनिंग सॉफ्टवेयर लॉंच । सूबे की महिलाओं को मिलेगा लाभ ।

आज यानी 28 अक्तूबर से 30 अक्टूबर तक देहारादून में Canprotect Foundation द्वारा तीन दिवसीय नि:शुल्क स्तन कैंसर जांच शिविर का आयोजन गांधी रोड स्थित अग्रवाल धर्मशाल मे किया जा रहा है । जिसका समय प्रात: 10 बजे से शाम 3 बजे तक रहेगा । अधिक जानकारी के लिए इस रिपोर्ट के साथ फोटो (पोस्टर) में पढ़ें जिसे Canprotect Foundation द्वारा प्रचारित – प्रसारित किया गया है । और यूथ आइकॉन क्रिएटिब मीडिया भी जनहित में इसे अपने वेब-पोर्टल के मार्फत अधिक से अधिक महिलाओं व उनके परिवारों तक पहुंचाने में अपनी सामाजिक जिम्मेदारियों का निर्वहन कर रहा है ।
Canprotect Foundation के संरक्षक डॉ0 महेश कुड़ियाल ने बताया कि स्तन कैंसर स्क्रीनिंग सॉफ्टवेयर आधारित अत्याधुनिक उपकरण उत्तराखंड में स्थापित होने से राज्य की हजारों महिलाओं को लाभ मिलेगा । और निश्चित तौर पर गंभीर बीमारी का समय से पता चल

Dr. Sumita Prabhakar, Gynaecologist (CMI Hospital Dehradun Uttrakhand )
मेरे लिए भी यह बेहद जिज्ञासा वाला उपकरण है और जेबी मै इस उपकरण की मदद से अपने मरीजों की जांच करूंगी और अत्याधुनिक मशीन के गुणों को भली भांति समझ लूँगी तो इसके बारे में और भी विस्तार से लोगों को समझा सकूँगी ।                          Dr. Sumita Prabhakar, Gynaecologist (CMI Hospital Dehradun Uttrakhand )

जाने पर चिकित्सक द्वारा समय से ईलाज भी आरंभ किया जाएगा जिससे कई जिंदगियाँ सुरक्षित होंगी । साथ ही Canprotect Foundation की अध्यक्ष व महिलारोग विशेषज्ञ डॉ0 सुमिता प्रभाकर ने बताया कि “स्तन कैंसर स्क्रीनिंग सॉफ्टवेयर” का शुभारंभ इस शिविर से आरंभ होगा उन्होने कहा कि मेरे लिए भी यह बेहद जिज्ञासा वाला उपकरण है और जेबी मै इस उपकरण की मदद से अपने मरीजों की जांच करूंगी और अत्याधुनिक मशीन के गुणों को भली भांति समझ लूँगी तो इसके बारे में और भी विस्तार से लोगों को समझा सकूँगी ।
डॉ0 सुमिता प्रभाकर ने यूथ आइकॉन मीडिया के हवाले से सभी 13 वर्ष से ऊपर की लड़कियों एवं महिलाओं को स्तन कैंसर की नियमित जांच की सलाह दी है । वहीं Canprotect Foundation के सचिव प्रवीण डंग ने कहा कि देहारादून में आयोजित होने वाले तीन दिवसीय शिविर में भारी संख्या में पहाड़ों से भी महिलाएं पहुँचेंगी । प्रवीण ने बताया कि स्तन कैंसर को लेकर उनकी संस्था बृहद स्तर जन-जागरूकता फैला रही है रही है और 28 अक्टूबर से आरंभ होने वाले तीन दिवसीय निशुल्क जांच शिविर की जानकारी बीते कई दिनों से राज्यभर में विभिन्न माध्यमों से जन-जन तक पहुंचाई गई थी जिसके बाद बड़ी संख्या में महिलाओं ने शिविर में आने के लिए जानकारी जुटाई है । 

YOUTH ICON Creative Media – 9756838527, 7060214681 

By Editor