In Aggresive Mode- CM Uttarakhand  : बरखुरदार ....खबरदार... होशियार...  त्रिवेंद्र का खुल चुका है तीसरा नेत्र  !

आत्महत्या करने की 7 और धमकियाँ  सरकार को मिली ! वक़्त उकसाने का नहीं बल्कि सयंम बरतने का है – मुख्यमंत्री 

 

 

आत्महत्या करने की  7 और धमकियो की सूचना प्राप्त हुई है। ऐसे मौको पर उकसाने वाली बयानबाजी नही होनी चाहिए। आत्महत्या की धमकियों पर पूछे गये प्रश्न का उत्तर देते हुए मुख्यमंत्री ने कहा कि यह समय सहानुभूति का है।

In Aggresive Mode- CM Uttarakhand  : बरखुरदार ....खबरदार... होशियार...  त्रिवेंद्र का खुल चुका है तीसरा नेत्र  !
आत्महत्या करने की 7 और धमकियाँ  सरकार को मिली ! वक़्त उकसाने का नहीं बल्कि सयंम बरतने का है – मुख्यमंत्री 

मुख्यमंत्री त्रिवेन्द्र सिंह रावत ने गुरूवार को मुख्यमंत्री आवास में आयोजित एक कार्यक्रम के उपरांत मीडिया से अनौपचारिक बातचीत में हाल ही में ट्रांसपोर्ट व्यवसायी प्रकाश पांडे द्वारा आत्महत्या के मुददे पर कहा कि कुछ लोग इस दुर्भाग्यपूर्ण घटना पर राजनैतिक रोटियां सेंक रहे है। उन्हे खराब माहौल को ठीक करने में योगदान देना चाहिये। इस प्रकार की प्रवृति को बढ़ावा नही दिया जाना चाहिए। उक्त जिले के जिलाधिकारी द्वारा पीड़ित के परिवार को स्थानीय लोगों की सहायता से 2 लाख रूपये की सहायता पहुचाई गयी है। आत्महत्या करने की 7 और धमकियो की सूचना प्राप्त हुई है। ऐसे मौको पर उकसाने वाली बयानबाजी नही होनी चाहिए। आत्महत्या की धमकियों पर पूछे गये प्रश्न का उत्तर देते हुए मुख्यमंत्री ने कहा कि यह समय सहानुभूति का है। लोकायुक्त के प्रकरण पर मुख्यमंत्री ने कहा कि इस सम्बन्ध में सुप्रीम कोर्ट के निर्णय का अध्ययन किया जायेगा। अनाथ बच्चो को राजकीय सेवाओं में आरक्षण के विषय में मुख्यमंत्री ने कहा कि आज देशभर में लगभग 31 लाख अनाथ बालक-बालिकाएं है । राज्य सरकार द्वारा अनाथ बच्चों को राजकीय सेवाओं में आरक्षण देने के विषय में शीघ्र ही गम्भीरता से विचार किया जायेगा।

By Editor