मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र रावत करेंगे जनवरी में हंस फाउण्डेशन द्वारा संचालित पेयजल परियोजनाओं का शुभारम्भ । हंस फाउंडेशन

Youth icon yi media logo . Youth icon media . Shashi bhushan maithani paras

मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र रावत करेंगे जनवरी में हंस फाउण्डेशन द्वारा संचालित पेयजल परियोजनाओं का शुभारम्भ ।

 

मुख्यमंत्री त्रिवेन्द्र सिंह रावत आगामी जनवरी माह में हंस फाउण्डेशन द्वारा संचालित द्वाराहाट के धर्मा गांव, गरूड़ के पुरोडा गांव, घाट के कुमजुंग गांव व एकेश्वर ब्लाॅक के बरेथ मल्ला में पेयजल परियोजनाओं का शुभारम्भ करेंगे। हंस फाउण्डेशन द्वारा उत्तराखण्ड के 100 गांवों में 83 योजनाएं संचालित की जा रही है जिसके माध्यम से 4429 घरो में लगभग 22000 लोग लाभान्वित हो रहे हैं। उक्त पेयजल योजनाओं में 11 पम्प बेस्ड है तथा शेष ग्रेविटी बेस्ड पेयजल योजनाएं है।

मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र रावत करेंगे जनवरी में हंस फाउण्डेशन द्वारा संचालित पेयजल परियोजनाओं का शुभारम्भ । हंस फाउंडेशन

पौड़ी जिले के जहरीखाल ब्लाॅक के 16 गांवों में भी उक्त पेयजल योजनाओं का द्वितीय चरण आरम्भ हो चुका है। उक्त पेयजल योजनाओं की कुल लागत 25 करोड़ रूपये है। इसके साथ ही मुख्यमंत्री श्री त्रिवेन्द्र जल्द ही फाउण्डेशन द्वारा अपग्रेडेड 10 स्कूलों में 20 स्मार्ट क्लासेज का भी शुभारम्भ करेंगे। हंस फाउण्डेशन द्वारा 23 करोड़ रूपये की लागत से राज्य में 95 माॅडल स्कूल विकसित किए गए है। राज्य सरकार व हंस फाउण्डेशन मिलकर देहरादून के केदारपुरम स्थित नारी निकेतन रहने वाली महिलाओं को मुख्यधारा से जोड़ने हेतु कम्युनिटी हाउसिंग की योजना पर कार्य करने जा रहे है। पिथौरागढ़ में 2.5 करोड़ रूपये की लागत से आईसीयू स्थापित हो चुका है तथा पौड़ी में आईसीयू जल्द आरम्भ होगा। हंस फाउण्डेशन द्वारा देहरादून, रूड़की, काशीपुर, रूद्रपुर, सितारगंज, नैनीताल व हरिद्वार में 70 करोड़ रूपये की लागत से 7 सेन्ट्रलाइज किचन बनाई जा रही है। काशीपुर व सितारगंज में सेन्ट्रलाइज किचन के लिए सरकार द्वारा भूमि आवंटित कर दी गई है। इससे लगभग 3 लाख विद्यार्थियों को लाभ पहुचेगा।

मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र रावत करेंगे जनवरी में हंस फाउण्डेशन द्वारा संचालित पेयजल परियोजनाओं का शुभारम्भ । हंस फाउंडेशन

फाउण्डेशन द्वारा 3.2 करोड़ रूपये की लागत से राज्य के 5519 स्कूलों में गैस कनेक्शन पहुंचाए गए है तथा 865 स्कूलों में गैस स्टाॅव पहंुचाए जा रहे है। राज्य में 21 मेडिकल मोबाइल यूनिट के माध्यम से लगभग 5 लाख मरीजों को लाभ पहुचाया जा रहा है। हल्द्वानी व दून मेडिकल काॅलेज को एक-एक मेमाॅग्राफी वेन उपलब्ध करवाई गई है। हंस बाल आरोग्य कार्यक्रम के तहत 1305 बच्चों को कैंसर, किडनी सम्बन्धित गम्भीर बीमारियों के उपचार हेतु सहायता दी गई है। राज्य के पांच जिलों बागेश्वर, पिथौरागढ़, नैनीताल, ऊधम सिंह नगर व हरिद्वार में 3237 घरों में सोलर सिस्टम उपलब्ध करवाए गए हैं। इसके साथ ही 3000 घरों में भी सोलर सिस्टम उपलब्ध करवाए जाएगे। देहरादून के केदारपुरम स्थित नारी निकेतन को विभिन्न अत्याधुनिक सुविधाओं से अपगे्रडेड किया गया है। जनवरी 2019 में राज्य सरकार व हंस फाउण्डेशन के मध्य उक्त नारी निकेतन के डी-इन्स्टीटयूशनलाइजेशन के लिए एमओयू किया जाएगा। नारी निकेतन में रहने वाली महिलाओं को मुख्यधारा से जोड़ने हेतु कम्युनिटी हाउसिंग की योजना पर कार्य किया जाएगा। नन्दा देवी सेन्टर फाॅर एक्सेलेन्स के साथ मिलकर बागेश्वर के कार्मी व जोशीमठ के मन्दाकिनी में उत्पादों की मैन्यूफैक्चिरिंग के लिए दो कलस्टर विकसित करने हेतु टाइ अप किया गया है। यहां के उत्पादों को हाॅगकाॅग, दुबई नोर्वे में प्रदर्शित व मार्केटिंग की योजना पर काम किया जा रहा है।
मुख्यमंत्री त्रिवेन्द्र सिंह रावत से गुरूवार को मुख्यमंत्री आवास में हंस फाउण्डेशन के पदाधिकारियों ने फाउण्डेशन द्वारा राज्य सरकार के साथ मिलकर किए जा रहे विभिन्न विकास कार्यो की प्रगति की जानकारी दी।

By Editor

One thought on “मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र रावत करेंगे जनवरी में हंस फाउण्डेशन द्वारा संचालित पेयजल परियोजनाओं का शुभारम्भ ।”
  1. A long projected problem of drinking water in Villages at Manniyarsuen is unresolved as yet.
    State Govt. has sanctioned lifting of water from river Ganges at Vyasghat and installation of two big overhead water tanks at Garhi Chinali ka Danda and Danda ka Nagarja. But the project is progressing at snarls speed.
    The villagers have migerated to other cities. In order to promote reverse migeration drinking water facility and wild life menace be checked at state Govt level and progress be motored for expeditious materalusation.

    I had personally offered 22 nalies roughly about 2 acre consolidated labd to ‘Hans Foundation’ to either have a sanitirium for TB patients and
    of same size ipiece of land for School but to no avail as yet for basic requirement of water and road connectivity for a small stretch.

    I invite the authorities to survey the identified places for the purpose.

Comments are closed.