Youth icon yi Media logoGolmal : चुनाव से पहले पाएं उत्तराखंड वन विकास निगम में नौकरियां ही नौकरियां …!

देहरादून, बेरोजगारों को उत्तराखंड विकास निगम में थोक के भाव से नौकरी मिलने से पहले ही वह विवादों में घिरती नजर आ रही है । सूत्रों ने बताया कि आनन-फानन में एक साथ इतने पदों पर की जा रही भर्तियां आगामी 2017 में होने वाले चुनावों के मद्देनजर की जा रही हैं । विभाग में विभिन्न पदों पर भर्ती हेतु परीक्षाएं 20 नवंबर से 27 नवंबर तक आयोजित होंगी । जिनके परीक्षा केंद्र अल्मोड़ा, हल्द्वानी, श्रीनगर और देहारादून मे होंगे ।

Breaking News , Youth icon Yi Media
Breaking News , Youth icon Yi Media

एक व्यक्ति ने नाम न छापने की शर्त पर बताया कि वन निगम में विभिन्न पदों पर जो भर्तियां होनी है उसके लिए विभाग ने दिल्ली की एक प्राइवेट संस्था को जिम्मेदारी सौंपी है जिससे संदेह उत्पन्न होता है । उक्त व्यक्ति ने बताया कि उत्तराखंड में विभिन्न स्तर पर परीक्षाएं आयोजित होती हैं जिनका सम्पादन उत्तराखंड सरकार के अधीनस्थ सरकारी संस्थान संपादित करते हैं, लेकिन वन विकास निगम में होने वाली भर्तियों का जिम्मा दिल्ली की संस्था को देने पर भी सवाल खड़े होने लाजमी हैं ।
आरोप लगाया और कहा कि इन भर्तियों पर तुरन्त रोक लगनी चाहिए । सूत्रों का कहना है कि ई मौके पर बड़े स्तर पर लेन देन हो सकता है, और साथ ही उक्त विभाग में सिर्फ एक ही राजनीतिक दल से जुड़े लोगों के चहेतों को फायदा पहुंचाए जाने की भी आशंका भी है । संभत: ऐन चुनाव से पहले उक्त मामला सरकार को घेरने के लिए विपक्ष के हाथों में अचूक रामबाण साबित हो, बताया जा रहा है किसी ने विपक्षी पार्टी के कानों में उक्त मामला मय सबूत पहुंचा दिया ।गोलमाल
बहरहाल अब इस पूरे मामले में क्या सच्चाई है यह तो आने वाले दिनों में ही पता चल पाएगा, लेकिन उम्मीद की जानी चाहिए कि सरकार भी उक्त मामले को संज्ञान में लेगी और किसी स्तर पर अनियमितता हो रही है तो तत्काल उसे रोके व पारदर्शिता के साथ योग्य लोगों की भर्तियां की जाये ।
लेकिन अगर उत्तराखंड वन विकास निगम में दिल्ली की संस्था भर्ती करने का काम करेगी तो सवाल एक नहीं हजार उठेंगे और बार बार उठेंगे ।

By Editor