Guddu lal . Ghat Vikasnagar chamoli .गुड्डु लाल में जाग्रत हैं दैवीय शक्तियाँ ! क्या है गुड्डु लाल की लाल पीठायीं का राज ? क्लिक कर पढ़ें ।

गुड्डु लाल में जाग्रत हैं दैवीय शक्तियाँ ! क्या है गुड्डु लाल की लाल पीठायीं का राज ? क्लिक कर पढ़ें ।

 

घाट ब्लॉक के गुड्डु लाल जो कि थराली विधानसभा के लिए बीजेपी से धोखा मिलने के बाद निर्दलीय ताल ठोक चुके हैं । आइये आपको बताते हैं गुड्डु लाल के कुछ राज

 

Pankaj mandoli ,

गुड्डु लाल जोकि काफी लंबे समय से पहाड़ों में एज ए धौंस्या अथार्त पहाड़ों के देवी देवताओं, भूत पिचासों आदि की पूजा और उनको नचाने की विद्या के भी महारथी हैं । गुड्डु लाल के द्वारा पूजे गए देवता तुरन्त ही तुष् जाते हैं अथार्त सन्तुष्ट हो जाते हैं ।
बताते हैं कि गुड्डु लाल के पास एक सिद्ध की हुई लाल पीठायीं भी है जिसको लगाने से सामने वाला व्यक्ति गुड्डु का मुरीद हो जाता है ।

इससे जुड़ी एक घटना भी है : 

Guddu lal . Ghat Vikasnagar chamoli .गुड्डु लाल में जाग्रत हैं दैवीय शक्तियाँ ! क्या है गुड्डु लाल की लाल पीठायीं का राज ? क्लिक कर पढ़ें ।
गुड्डु लाल में जाग्रत हैं दैवीय शक्तियाँ ! क्या है गुड्डु लाल की लाल पीठायीं का राज ? क्लिक कर पढ़ें ।

एक बार गुड्डु लाल सुदूर किसी गाँव मे देवता नचा रहे थे , तथा उस गाँव का प्रधान जोकि पिछले विधानसभा चुनाव में गुड्डु के विरोधी खेमे में था , उस पर दैवीय कार्यक्रम के दौरान जब गुड्डु द्वारा पीठायीं लगाई गई तो उसके बाद से लेकर आजतक वो प्रधान गुड्डु लाल का मुरीद बना हुआ है ।

यूँ तो गुड्डु लाल एक गरीब प्रत्यासी है पर दैवीय शक्तियाँ जाग्रत होने से गुड्डु लाल के कोई भी काम नही रुकते । पिछली बार चुनाव हारने के कुच्च दिनों बाद ही एक दिन गुड्डु लाल को सपना आया… सपने में स्वयं काल भैरव ने दर्शन दिए और कहा .. तूझे मैं अपना दूत बनाकर जल्द ही उसे बड़े स्तर पर जनता की सेवा का मौका दे रहा हूँ , जब गुड्डु की आंखे खुली तो , बिस्तर में एक पुड़िया थी , जिसमे लाल पीठायीं और चावल थे ।

फिर गुड्डु ने बहुत ही सात्विकता के साथ उस पीठायीं की पूजा की और उस

पीठायीं को लगाने से कई दुखियारे लोगों के जीवन मे खुशियाँ भी बिखेरी । पहाड़ों में अक्सर आपने देखा होगा जब इन्शान नीम, हकीम, डॉक्टरों से थक हार जाता है तो अक्सर देवताओं की शरण मे जाता है । इसी प्रकार गुड्डु लाल ने उस पीठायीं का प्रयोग लोकहित में किया । यही कारण है कि आज युवा , महिलाएं ,बुजुर्ग सभी गुड्डु लाल के मुरीद हैं । गुड्डु लाल के अंदर एक गजब का आकर्षण है जो सुदूर सोशियल मीडिया पर बैठे लोगों में भी गुड्डु के प्रति एक भाव जगाता है ।
गुड्डु लाल कर्म में विश्वास रखते हुए ,दैवीय शक्तियों के आश्रीवाद से आज हर किसी का चहेता प्रत्याशी बना हुआ है ।

By Editor

One thought on “Guddu lal . Ghat Vikasnagar chamoli .गुड्डु लाल में जाग्रत हैं दैवीय शक्तियाँ ! क्या है गुड्डु लाल की लाल पीठायीं का राज ? क्लिक कर पढ़ें ।”
  1. नीला नही,,,सुरर्व लाल
    घाट का गुडडू लाल

Comments are closed.