Kalogi Dhari (Uttarkashi) आकाश से गिरी आफत की बिजली गरीब किसान सियाराम की छानी पर । * मदद के लिए मुख्यमंत्री त्रिवेन्द्र सिंह रावत से गुहार , कि वह इस दुखद घटना का संज्ञान लें । * सोशल मीडिया पर पीड़ित की मदद के लिए छेड़ी मुहीम !

आकाश से गिरी आफत की बिजली गरीब किसान सियाराम की छानी पर ।

* मदद के लिए मुख्यमंत्री त्रिवेन्द्र सिंह रावत से गुहार , कि वह इस दुखद घटना का संज्ञान लें ।

* सोशल मीडिया पर पीड़ित की मदद के लिए छेड़ी मुहीम !

खबर मार्फ़त सोशल मीडिया (फेसबुक) ।

उत्तरकाशी में बड़कोट तहसील के धारी कलोगी क्षेत्र में एक गरीब के नशीब में आकाशीय बिजली का कहर टूटा । फेसबुक सोशल मीडिया के मार्फ़त  बताया जा रहा है कि जनानंद और सियाराम पुत्र बुद्धि राम डोभाल की गौशाला में आकाशीय बिजली गिरने से उनकी दो भैंस सहित तीन दर्जन से अधिक बकरियों की मौत हो गई ।

Kalogi Dhari (Uttarkashi) आकाश से गिरी आफत की बिजली गरीब किसान सियाराम की छानी पर । * मदद के लिए मुख्यमंत्री त्रिवेन्द्र सिंह रावत से गुहार , कि वह इस दुखद घटना का संज्ञान लें । * सोशल मीडिया पर पीड़ित की मदद के लिए छेड़ी मुहीम !
आकाश से गिरी आफत की बिजली गरीब किसान सियाराम की छानी पर ।

 

नितिन डोभाल की पोस्ट में फोटो सहित जानकारी दी गई है कि जब गौशाला पर आकाशीय बिजली आफत बनकर टूटी तो उस वक़्त जमनाराम व सियाराम डोभाल दोनों ही उसी से लगी दूसरी गौशाला में मौजूद थे । गनीमत रही कि इस घटना में कोई जन-हानि नहीं हुई । लेकिन दुःखद यह रहा कि घटना में बेजुबान जानवर बेमौत मारे गए ।
यह घटना तिया गाँव के दगड़ा नामे तोक की है । घटना के बाद से फेसबुक सोशल मीडिया पर गरीब किसानो की मदद के लिए पत्रकार विजेंद्र रावत व नितिन डोभाल द्वारा ख़ास मुहीम चलाई जा रही है और सूबे के मुख्यमंत्री से घटना को संज्ञान में लेकर गरीब पीड़ित परिवारों की मदद की गुहार भी लगाईं जा रही है ।

Kalogi Dhari (Uttarkashi) आकाश से गिरी आफत की बिजली गरीब किसान सियाराम की छानी पर । * मदद के लिए मुख्यमंत्री त्रिवेन्द्र सिंह रावत से गुहार , कि वह इस दुखद घटना का संज्ञान लें । * सोशल मीडिया पर पीड़ित की मदद के लिए छेड़ी मुहीम !
मुख्यमंत्री त्रिवेन्द्र सिंह रावत से गुहार , कि वह इस दुखद घटना का संज्ञान लें । सोशल मीडिया पर पीड़ित की मदद के लिए छेड़ी मुहीम !

घटना में दो भैंस व तीन दर्जन से अधिक बकरियों के मारे जाने की सूचना मिलते ही राजस्व और पशुपालन विभाग की संयुक्त टीमें मौके के लिए रवाना कर दी गई थीं ।
ग्रामीणों ने सरकार से विनती की है कि दोनों पीड़ित परिवारों को भरसक आर्थिक मदद पहुंचाई जाय क्योंकि इनके जीवन यापन का जरिया इन पशुओं पर ही निर्भर थी । वहीँ पत्रकार विजेंद्र रावत ने अपनी फेसबुक वॉल पर घटना स्थल की फोटो सहित घटना की सूचना दी है और पीड़ित परिवारों की बात सरकार तक पहुंचाने के लिए सभी पत्रकारों, मीडिया संस्थानों से भी खबर को प्रमुखता से प्रकाशित करने का आग्रह किया है ताकि सरकार तुरन्त घटना को संज्ञान में लेते हुए गरीबों की मदद में बढ़चढ़कर आगे आये ।

By Editor