Youth icon Yi National Creative Media Report
Youth icon Yi National Creative Media Report

Land Slide : आफत बनी चट्टान दफन हुए 16 लोग ,

Adhir Yadav . Youth icon Yi Report
Adhir Yadav .
Youth icon Yi Report

10 की मौत व 6 घायल ..!

चकराता के चतरा गाँव में चट्टान के नीचे दबकर हुई 10 लोगों की दर्दनाक मौत ।
चकराता के चतरा गाँव में चट्टान के नीचे दबकर हुई 10 लोगों की दर्दनाक मौत ।

मानसून की दस्तक अभी उत्तराखंड  में हुई भी नहीं है, जबकि इसकी आहट मात्र से ही प्रदेश के अलग-अलग हिस्सों में पहाड़ के दरकने व  बादल फटने की घटनाए भी सामने आने लगी हैं । बताते चलें कि पिछले 15 दिनों में 7 भिन्न-भिन्न जगहों पर बादल फटने की घटनाएं घट चुकी है । जबकि देहरादून जनपद के चकराता तहसील में  त्यूनी के चतरा गाँव की एक ताजा घटना में कल देर रात 16 लोगों के कुनबे पर पहाड़ मुसीबत बनकर टूट पड़ा । इस घटना में महिलाओं और बच्चों सहित कुल 10 लोगों की मौत हो गई और 6 बुरी तरह से घायल हैं जिनका अस्पताल में उपचार चल रहा है ।

जिला देहरादून के दूरस्थ क्षेत्र  त्यूनी ईलाके के चतरा में रात के 2 बजे एक चट्टान  गरीब मजदूरों के परिवार पर मुसीबत बनकर टूटी । मालूम हुआ कि  मजदूर यहाँ पर नए मोटर मार्ग की खुदाई के काम में लगे थे । जिन्होने जंगल में ही अपना डेरा जमाया हुआ था । आधी रात को अचानक तेज अंधड़ के साथ धूल मिट्टी का गुब्बार उड़ने लगा साथ ही गरजना  के साथ आसमान से पानी भी बरसने लगा तो मजदूरों ने पास में ही एक चट्टान के नीचे आसरा लिया । लेकिन उन्हे क्या पता था कि कुछ ही पल में वही चट्टान उन पर काल बनकर टूटने वाली है । आने वाले खतरे से बेखबर मजदूरों के परिवारों के सभी  16 सदस्यों पर पलभर में चट्टान भर्रा कर गिर पड़ी, घटना के बाद ज़ोर ज़ोर से चीखने चिल्लाने की आवाज सुनकर  चतरा गाँव के लोग भी घटना स्थल की ओर दौड़ पड़े लेकिन दिल दहला देने दृश्यों के बीच सभी लोग पीड़ितों को बचाने की कोशिस करते रहे लेकिन सभी नाकाम रहे । साथ ही घटना की सूचना रात में ही प्रशासन को भी ग्रामीणों द्वारा दे  दी गई थी  । घटना की खबर मिलते ही स्थानीय प्रशासन , पुलिस टीम के अलावा  SDRF के जवानो की टीम भी  घटनास्थल के लिए रवाना हो गई  थी  । जहां घंटो की मशक्कत के बाद मृतकों और घायलों को मलबे से बाहर निकाला  जा सका, जिसमे 10 की मौत हो गई और जबकि  6 घायलों को अस्पताल अस्पताल पहुंचाया गया जो अब भी  जिंदगी और मौत के बीच झूल  रहे हैं ।  घायलों का ईलाज  देहरादून के  दून अस्पताल में किया जा रहा है ।  सभी घायल व मृतक नेपाल मूल के हैं जो रोजी रोटी की जुगत में यहां मजदूरी के काम में लगे थे ।   घटना के बाद उत्तराखंड राज्य के गृहमंत्री प्रीतम सिंह भी घटना  का जायजा लेने घटना स्थल पहुँच गए है ।  उत्तराखंड सरकार द्वारा मृतकों के आश्रितों को  चार – चार  लाख रूपये देने की घोषणा की गई है । जबकि घायलों के उपचार में पूरा सहयोग किया जा रहा है ।

*अधीर यादव । 

Copyright : Youth icon Yi National Creative Media Report . 23.05.2016

By Editor