Trivendra Rawat CM Uttrakhand , Report By Youth icon Yi Media

Logo Youth icon Yi National Media HindiNavaratna : त्रिवेंद्र दरबार के नौ रत्न ! 

अवधेश नौटियाल Awadhesh Nautiyal Youth icon Reporter
अवधेश नौटियाल 
Trivendra Rawat CM Uttrakhand , Report By Youth icon Yi Media
उत्तराखण्ड राज्य के 9वें मुख्यमंत्री की तौर पर शपथ लेते त्रिवेन्द्र रावत  । 

देहरादून। उत्तराखंड की राजधानी देहरादून स्थित परेड ग्रांउड मेें प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की मौजूदगी में राज्यपाल डॉ केके पॉल ने उत्तराखंड के नए सीएम त्रिवेंद्र सिंह रावत को पद और गोपनियता की शपथ दिलाई। त्रिवेंद्र रावत के मंत्रिमंडल में 5 बागियों को भी जगह मिली. इनमें यशपाल आर्य, रेखा आर्य, सतपाल महाराज, सुबोध उनियाल और हरक सिंह रावत शामिल हैं. उत्तराखंड के राज्यपाल कृष्णकांत पॉल ने त्रिवेंद्र रावत समेत 9 लोगों को पद की शपथ दिलाई.इस दौरान कैबिनेट मंत्री मदन कौशिक, प्रकाश पन्त, हरक सिंह व अरविन्द पांडेय मौजूद हैं। 

इस अवसर पर भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष श्री अमित शाह, केंद्रीय मंत्री श्री राजनाथ सिंह, सुश्री उमा भारती, जे.पी. नड्डा, राधा मोहन सिंह, अजय टम्टा, हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर, उत्तराखण्ड के पूर्व मुख्यमंत्री भगत सिंह कोश्यारी, मे.ज.(से.नि.) भुवन चंद्र खण्डूड़ी, डा. रमेश पोखरियाल निशंक,  विजय बहुगुणा,  हरीश रावत, भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष  अजय भट्ट, भाजपा के वरिष्ठ नेता रामलाल, शिवप्रकाश, अनिल बलूनी सहित कई संत महात्मा, विधायकगण, वरिष्ठ अधिकारी, अन्य गणमान्य व बड़ी संख्या में आमजन उपस्थित थे। कार्यक्रम का संचालन मुख्य सचिव श्री एस.रामास्वामी ने किया।

मुख्यमंत्री ने शहीद स्मारक जाकर शहीद राज्य आंदोलनकारियों को दी श्रद्धांजलि : 

शनिवार को मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत ने शपथ ग्रहण से पूर्व कचहरी स्थिति शहीद स्मारक जाकर शहीद राज्य आंदोलनकारियों को श्रद्धांजलि अर्पित की। मुख्यमंत्री श्री रावत ने कहा कि उनकी सरकार शहीद राज्य आंदोलनकारियों की भावना के अनुरूप राज्य का विकास करने के लिए कृतसंकल्प है।

एक नजर त्रिवेंद्र रावत के  नौ रत्नों पर…

सतपाल महाराज

सतपाल महाराज कांग्रेस छोड़कर बीजेपी में आए. उन्होंने 1989 में कांग्रेस के साथ शुरुआत की. वह सांसद भी रहे हैं. चैबट्टाखाल से विधायक हैं.

प्रकाश पंत

प्रकाश पंत उत्तराखंड में पूर्व कैबिनेट मंत्री हैं. वह पिथौरागढ़ से विधायक हैं और उनकी संगठन पर अच्छी पकड़ है. वैसे उन्हें सीएम पद का दावेदार भी माना जा रहा था.

हरक सिंह रावत

हरक सिंह रावत कोटद्वार से विधायक बने. वह कांग्रेस छोड़कर बीजेपी में आए. वह कांग्रेस सरकार में मंत्री थे.

यशपाल आर्य

यशपाल पूर्व विधानसभा अध्यक्ष रहे. बाजपुर से विधायक और दलित चेहरा माने जाते हैं. वह कांग्रेस छोड़कर बीजेपी में आए.इनके बेटे नैनीताल से विधायक हैं.

सुबोध उनियाल

सुबोध उनियाल नरेंद्र नगर से विधायक हैं. कांग्रेस के बागी रहे.एनडी तिवारी सरकार में पर्यटन सलाहकार थे. इन्हें विजय बहुगुणा का करीबी माना जाता है.

मदन कौशिक

मदन कौशिक हरिद्धवार से विधायक हैं. राज्य बनने के बाद वह लगातार चुनाव जीते.बीजेपी के दिग्गज नेताओं में शामिल हैं.

अरविंद पांडे

अरविंद पांडे गदरपुर सीट से विधायक हैं. वह 14000 वोटों से जीते हैं.

राज्य मंत्री :- 

धन सिंह रावत

धन सिंह रावत श्रीनगर से विधायक. वह आरएसएस से जुड़े हैं. उनकी संगठन में मजबूत पकड़ है.वह पहली बार विधायक बने.

रेखा आर्य

रेखा आर्य कांग्रेस को छोड़कर बीजेपी में आईं. उन्होंने सोमेश्वर सीट जीती. उन्हें 710 वोटों से जीत मिली.

By Editor

One thought on “Navaratna : त्रिवेंद्र दरबार के नौ रत्न !”
  1. हाहाहा
    ढैंचा, आपदा, जमीन, भीतर सरक, धन सिंग का वो बयान,
    जय हो

Comments are closed.