राजकुमार के लिए यमराज बनकर आई ये बस !  मुख्यमंत्री त्रिवेन्द्र रावत व सांसद अनिल बलूनी ने की संवेदना व्यक्त ।  kamal nayan silori कमल नयन सिलोड़ी

Youth icon yi media logo . Youth icon media . Shashi bhushan maithani paras

राजकुमार के लिए यमराज बनकर आई ये बस ! 

मुख्यमंत्री त्रिवेन्द्र रावत व सांसद अनिल बलूनी ने की संवेदना व्यक्त । 

कमल नयन सिलोड़ी kamal nayan silori joshimath
कमल नयन सिलोड़ी

आज का दिन उत्तराखंड के दो जनपदों के लिए मनहूसियत लेकर आया । शुरुआत हुई टिहरी से जहां सुबह-सुबह एक स्कूल के आधे दर्जन से ज्यादा बच्चे काल के मुंह में समा गए । शासन प्रशासन द्वारा इस दर्दनाक घटना की जानकारी जुटाई ही जा रही थी, कि तभी एक और अप्रिय घटना की खबर चमोली जनपद से फ्लैश हुई कि बदरीनाथ से लौट रही श्रद्धालुओं की बस के ऊपर पहाड़ी से विशाल बोल्डर गिर गया, जिसमें कई यात्रियों के हताहत होने की सूचना मिली ।

एक के बाद एक घटित घटना से दोनों जिलों का प्रशासन मुस्तैदी से राहत कार्यों में जुट गया था लेकिन तब तक दोनों ही घटना में कई मासूमों सहित दर्जनभर से ऊपर के लोग अपनी-अपनी जान गंवा चुके थे । गंभीर घायलों को हायर सेंटरों में रेफर किया गया ।

राजकुमार के लिए यमराज बनकर आई ये बस !  मुख्यमंत्री त्रिवेन्द्र रावत व सांसद अनिल बलूनी ने की संवेदना व्यक्त ।  kamal nayan silori कमल नयन सिलोड़ी

 

 

■ हादसे की तस्वीर देख रूह कांप उठेगी :

चमोली जनपद में बदरीनाथ के निकट लामबगड़ में हादसे की तस्वीर देखकर रूह तक कांप उठेगी । यहां चलती बस के ऊपर कुख्यात स्लाइड लामबगड़ में चट्टान के साथ आए विशाल बोल्डर ने बस के परखच्चे उड़ा दिए जिसमें लगभग यात्री चालक परिचालक सहित 9 लोगों को रेस्क्यू कर निकाला गया , जो कि सभी बुरी तरह से घायल हैं । जबकि दुर्घटना में एक की मौत हो गई थी , के अलावा खबर लिखे जाने तक सुबह से शाम तक कुल 5 लोग बस के अंदर बोल्डर के नीचे ही जो फंसे हुए थे उन सबकी भी दर्दनाक मौत हो गई ।

■ राजकुमार के लिए कैसे काल बनी यह बस :

ऐसा नहीं है कि लामबगड़ में इस तरह का हादसा कोई नई बात हो । यहां इस जगह पर लगभग 200 मीटर के पैच वाले स्लाइड एरिया को बीते 3 दशकों से भी अधिक समय से देश विदेश से बद्रीनाथ आने वाले श्रद्धालु एवं पर्यटक जान हथेली में लेकर पार कर रहे हैं । इस बीच राज्य से लेकर केंद्र में रहीं भाजपा व कांग्रेस की बारी-बारी वाली सरकारों को भी सब पता है । इस स्लाइड के कल्याण के लिए मंत्रालयों में फाईल की मोटाई हर साल बढ़ जाती है लेकिन सड़क के हाल बद से बदत्तर होते चले जा रहे हैं । इसे सिस्टम का नक्कारापन भी कह लिया जाय तो वाज़िब रहेगा । वहीं इसे दुर्घटना के बजाय हत्या कहें तो अतिशयोक्ति भी नहीं होगी ।

बताते चलें कि बदरीनाथ आने – जाने वाले वाहनों के लिए इस जगह पर लगातार मशीन द्वारा रास्ता साफ करने वाले राजकुमार को भी आज ये स्लाइड लील गया । बताया गया कि राजकुमार ने बदरीनाथ से आने वाली बस के लिए रास्ता साफ किया फिर मशीन को स्लाइड से पार खड़ी कर खुद को भी आने वाली बस में इसलिए सवार हो गया ताकि उसे खतरनाक स्लाइड को पैदल पार न करना पड़े महज 200 मीटर की दूरी पार करने को बस में सवार हुए मशीन के ऑपरेटर राजकुमार के लिए पलभर में मौत का बहाना बन गई यह बस । इस घटना में उत्तर प्रदेश के बिजनौर का रहने वाला 20 वर्षीय जेसीबी ऑपरेटर राजकुमार की भी दर्दनाक मौत हो गई । शायद राजकुमार बस में सवार न होता तो उसकी जान बच जाती, लेकिन विधि का विधान शायद इसे ही कहा गया है । सोचिए चंद सेकंड पहले जिसने अपने लिए रास्ता साफ किया वो उसी रास्ते में दफन हो गया ।

■ टिहरी में मासूमों के काल बनी मैक्स गाड़ी :

अगर बात टिहरी की करें तो यहां ग्राम कंगसाली के मासूमों को लेकर एक मैक्स गाड़ी जिसका नम्बर UA 07 Q 3126 , वह एंजल्स इंटरनेशनल स्कूल लेकर आ रही थी । लेकिन मैक्स स्कूल पहुंचने से सुबह 7 बजकर 30 मिनट पर ही खाई में जा गिरी जिसमें आधे दर्जन से अधिक बच्चों की दर्दनाक मौत हो गई । मैक्स वाहन को चला रहे चालक का नाम लक्षमण रतूड़ी पुत्र प्रेमदत्त रतूड़ी रिन्डोल गांव है । गाड़ी के नम्बर से प्रतीत हो रहा है गाड़ी काफी पुरानी व जीर्ण शीर्ण रही होगी । बाकी तो तकनीकी जांच के बाद ही वास्तविकता का पता चल सकेगा । फिलहाल यह वाहन बच्चों के लिए काल साबित हो गया ।

■ टिहरी दुर्घटना में मृतक बच्चों के नाम :

◆ ऋषभ पुत्र जस्सी उम्र 5 वर्ष
◆ अयान पुत्र अतर सिंह 4 वर्ष
◆ आदित्य पुत्र अरविंद 8 वर्ष
◆ विहान पुत्र अजयपाल 5 वर्ष
◆ ईशान पुत्र दरमियान 6 वर्ष
◆ अभिनव पुत्र शोभन सिंह 6 वर्ष
◆ साहिल पुत्र विशन सिंह 13 वर्ष
◆ आदित्य सिंह पुत्र अरविंद सिंह 10 वर्ष
◆ वंश पुत्र प्रवीण सिंह 5 वर्ष

■ चमोली लामबगड़ दुर्घटना में घायल श्रद्धालु :

◆ दर्शन सिंह पुत्र रघुबीर सिंह निवासी ग्राम बंगाली, घाट नन्दप्रयाग (परि- चालक)
◆ सुजान सिंह पुत्र महेन्द्र सिंह निवासी थ्युला हरमनी, थराली (उम्र -53 वर्ष) (चालक)
◆ शेलेन्द्र शुक्ला पुत्र नरेन्द्र शुक्ला निवासी EC/78 D-11 मुंबई (महाराष्ट्र) (उम्र 40 वर्ष)
◆ प्रेम सागर पुत्र प्रहलाद प्रसाद निवासी गुमनी शिवांग (बिहार) (उम्र 42 वर्ष)
◆ जवाहर सिंह पुत्र गब्बर सिंह निवासी थेंग जोशीमठ (उम्र 60 वर्ष)
◆ जितेंद्र प्रसाद गौड़ पुत्र नगदू प्रसाद निवासी गौड़ जिला देवरिया उत्तर प्रदेश (उम्र 40 वर्ष)
◆ रवि सिंह पुत्र राम लक्ष्मण सिंह निवासी महाराष्ट्र (उम्र 27 वर्ष)
◆ सूरज मिश्रा पुत्र विनोद मिश्रा निवासी मुम्बई महाराष्ट्र (उम्र 21 वर्ष)

 

मुख्यमंत्री संवेदना व्यक्त की । जांच के दिये निर्देश : 

बोले मुख्यमंत्री ! अब उत्तराखंड में बड़े स्तर पर खुलेंगे रोजगार के द्वार । * पिछले एक महीने में 5 कैबिनेट बैठक और 10 नई नीतियों पर कैबिनेट की लगी मुहर । * वन संपदा से भी मिलेगा रोजगार, खुलेगी 50 हजार लोगों की किस्मत । trivendra rawat CM uttarakhand
फाईल फोटो

दोनों जिलों में घटित हुई दुर्घटनाओं में मारे गए लोगों के प्रति प्रदेश के मुख्यमंत्री त्रिवेन्द्र रावत व राज्य सभा सांसद अनिल बलूनी शोक संवेदना व्यक्त की व घायलों के शीघ्र स्वस्थ होने की कामना की ।

मुख्यमंत्री त्रिवेन्द्र सिंह रावत ने टिहरी के प्रतापनगर क्षेत्रान्तर्गत कगंसाली में दुर्घटना पर गहरा शोक जताते हुए मृतक मासूम बच्चों के प्रति संवेदना व्यक्त की है। उन्होंने अधिकारियों को तेजी से राहत बचाव कार्य करने व घायलों का समुचित उपचार सुनिश्चित करने के निर्देश दे दिए थे । साथ दुर्घटना की मजिस्ट्रेट जांच के भी निर्देश दे दिए गए । मुख्यमंत्री के निर्देश पर गम्भीर घायलों को एम्स ऋषिकेश लाने के लिए हेली रेस्क्यू चलाया गया ।

दुर्घटना की जानकारी मिलते ही स्थानीय प्रशासन, पुलिस व एसडीआरएफ के लोग राहत व बचाव कार्य में जुट गए थे । जिलाधिकारी डॉ वी.षणमुगम मौके पर पहुंचे। घायलों को जिला चिकित्सालय बौराड़ी लाया गया जहां उनका उपचार चला । जिला चिकित्सालय में 10 घायल बच्चां का ईलाज चल रहा है। जिलाधिकारी द्वारा उपचार कार्य का निरीक्षण किया गया। चार गम्भीर घायल बच्चे चम्बा हेलीपैड से जिलाधिकारी डॉ. वी षणमुगम की निगरानी में हैलीकॉप्टर से ऋषिकेश एम्स भेजे गये जबकि एक घायल को एम्बुलेंस से एम्स भेजा गया है।
मुख्यमंत्री त्रिवेन्द्र रावत ने चमोली जनपद के लामबगड़ में हुई बस दुर्घटना पर भी गहरा शोक जताते हुए मृतकों के प्रति शोक संवेदना व्यक्त की है। लामबगड़ में एस.डी.आर.एफ द्वारा 09 लोगों को रेस्क्यू किया गया है, जिनमें से 8 लोग घायल हैं जिनका उपचार हेतु सीएचसी जोशीमठ लाया गया है। इस दुर्घटना में 1 व्यक्ति की मृत्यु हो चुकी है जब कि 4 लोग बस में ही फंसे हैं जिनका रेस्क्यू चल रहा है।

By Editor