Youth icon Yi National Creative Media Report, 7.04.2016
Youth icon Yi National Creative Media Report,

क्राईम रिपोर्ट:पुलिस के हाथ लगी सफलता, चार लुटेरे और पकड़े गए ।

Shashi Bhushan Maithani Paras , Dehradun YOUTH ICON Yi Report
Shashi Bhushan Maithani Paras ,
Dehradun
YOUTH ICON Yi Report
देहरादून, 7 अप्रेल, Yi रिपोर्ट ,

थाना हाजा पर पंजीकृत मुकदमा अपराध संख्या 75/16 धारा 395/397/412 भा0 द0 वि0 की घटना के संबंध मे अभियुक्त जोगा को गिरफ्तार कर पहले ही जेल भेजा चुका था । उक्त मामले मे फरार चल रहे अन्य अभियुक्तों की तलाश के लिए पुलिस विभाग के उच्च अधिकारियों के निर्देश पर अलग – अलग उच्च स्तरीय टीमों का गठन किया गया था । इस बीच मुखबिर की सूचना पर एसओजी टीम व  विकास नगर पुलिस  के अलावा सहसपुर पुलिस धर्मावाला चौक पर एक रणनीति के तहत मिले जिसकी आरोपी डकैतों को कानो कान खबर तक नहीं लगी ।

मुखबिर के द्वारा बताई  गई पहचान के आधार पर पुलिस ने भी बड़ी ही सूझ बूझ के साथ धर्मावाला चौक पर सादी वर्दी मे पहुँचकर आरोपियों की घेराबंदी कर ली थी । और फिर ईशारा मिलते ही चारों आरोपी शीशनाथ पुत्र चमननाथ निवासी सपेरा बस्ती भानियावाला , गुलशन उर्फ अन्ना पुत्र मुंदर निवासी लाडपुर देहरादून, सिकंदर उर्फ फुम्मन पुत्र लेखूनाथ निवासी रायपुर देहरादून , एवं साजन पुत्र लेखराज निवासी

पुलिस विभाग द्वारा गठित स्पेशल टीम मे एएसपी मंजूनाथ , एसओजी प्रभारी मुकेश त्यागी, एसओजी उप निरीक्षक अशोक राठौर, उप निरीक्षक राजेन्द्र रौतेला चौकी प्रभारी धर्मावाला, उप निरीक्षक सुनील पँवार थाना सहसपुर, उप निरीक्षक शैलेंद्र नेगी चौकी प्रभारी कुलाल, उप निरीक्षक धर्मेन्द्र रौतेला, उप निरीक्षक वी0 पी0 सिंह, हेड कांस्टेबल सुशील कुमार, कांस्टेबल राजवीर, धीरज, संतोष, ललित, अमित , गंभीर , नरेश पंत , इमरान, लोकेन्द्र, आशीष शर्मा, विपिन , और अवनीश
पुलिस विभाग द्वारा गठित स्पेशल टीम मे एएसपी मंजूनाथ , एसओजी प्रभारी मुकेश त्यागी, एसओजी उप निरीक्षक अशोक राठौर, उप निरीक्षक राजेन्द्र रौतेला चौकी प्रभारी धर्मावाला, उप निरीक्षक सुनील पँवार थाना सहसपुर, उप निरीक्षक शैलेंद्र नेगी चौकी प्रभारी कुलाल, उप निरीक्षक धर्मेन्द्र रौतेला, उप निरीक्षक वी0 पी0 सिंह, हेड कांस्टेबल सुशील कुमार, कांस्टेबल राजवीर, धीरज, संतोष, ललित, अमित , गंभीर , नरेश पंत , इमरान, लोकेन्द्र, आशीष शर्मा, विपिन , और अवनीश

सहस्त्र्धारा रोड देहरादून  को ज्वैलरी एवं नकदी के साथ धर दबोचा ।

फिर सभी आरोपियों को पुलिस उठाकर अपने साथ ले गई जिसके बाद आरोपियों से कड़ी पूछताछ की गई जिनमे से फिर एक आरोपी ने पुलिस के सामने वारदात को अंजाम दिये जाने के प्लान की परत दर परत कहानी पुलिस को बता दी ।  आरोपी शीशनाथ ने बताया कि उसके बाई के साले का नाम जय है । और जय पटेलनगर से जेल गया

एसओजी उप निरीक्षक अशोक राठौर, अभी तक कुल पाँच आरोपियों को पकड़ा जा चुका है । इस मामले मे अभी और गिरफ्तारियाँ होनी बाकी है । जिनको हमारी टीम जल्दी पकड़ लेगी ।
एसओजी उप निरीक्षक अशोक राठौर,
अभी तक कुल पाँच आरोपियों को पकड़ा जा चुका है । इस मामले मे अभी और गिरफ्तारियाँ होनी बाकी है । जिनको हमारी टीम जल्दी पकड़ लेगी ।

था ।और तब जय कि मुलाक़ात जिला कारागार मे मुकदमा करने वाली महिला के देवर पराक्रम चंदेल से हुई थी । पराक्रम चंदेल का पौलिहाऊस भी है , जिसके लिए उसे मजदूरों कि जरूरत थी । चंदेल ने यह बात जय को बताई थी और फिर जय ने इस बहाने अपने रिश्तेदार साजन को उसके परिवार  सहित को चंदेल के यहां काम के बहाने भेज दिया था ।

फिर पराक्रम चंदेल के पौलीहाऊस मे ही फुम्मन साजन से मिलने आया करता था । और यहीं पर पराक्रम से फुम्मन की भी मुलाक़ात हुई थी । आरोपी शीशनाथ ने आगे बताया कि सिकंदर उर्फ फुम्मन घरों मे पूजा पाठ का काम भी किया करता था और इसी के चलते एक दिन पराक्रम चंदेल ने अपने घर मे फुम्मन से पूजा भी कारवाई थी । फिर 4 अप्रेल को उसके बाद फुम्मन जय , गुलशन, उर्फ अन्ना व साजन को लेकर शीशनाथ के घर गया जहां वह चारों एक सफारी गाड़ी से हिमांचल के पौण्टा तक गए और वहां सबने मिलकर चन्देल के घर डाका डालने का प्लान तैयार किया जिसके बाद इन्होने अपने अन्य साथियों के साथ  चन्देल के घर पहुँचकर नकदी व लाखों के सोने चाँदी के जेवरात पर हाथ साफ किए, और फिर वहाँ से भाग निकले । हालांकि तब भी  पुलिस की त्वरित  कार्यवाही के चलते ही चंद घण्टों मे ही एक आरोपी जोगा को दो दिन पहले ही गिरफ्तार किया जा चुका था जबकि तब अंधेरे का फायदा उठाकर भगाने वालों मे से चार आरोपियों को दबोचने मे  आज भी पुलिस को कामयाबी हाथ लगी है ।  गिरफ्तार किए गए चारों लुटेरों से पुलिस ने 3 सोने की अंगूठियाँ ,  डाईमण्ड जड़ित एक सोने की चैन, एक चाँदी का गिलाश, एक ताबीज, व दो जोड़े पाजेब के अलावा 15 हजार 30 रुपया नगद बरामद किए हैं ।

उक्त मामले मे फरार चल रहे अन्य अभियुक्तों की तलाश के लिए पुलिस विभाग द्वारा गठित स्पेशल टीम मे एएसपी मंजूनाथ , एसओजी प्रभारी मुकेश त्यागी, उप निरीक्षक राजेन्द्र रौतेला चौकी प्रभारी धर्मावाला, उप निरीक्षक सुनील पँवार थाना सहसपुर, उप निरीक्षक शैलेंद्र नेगी चौकी प्रभारी कुलाल, उप निरीक्षक धर्मेन्द्र रौतेला, उप निरीक्षक वी0 पी0 सिंह, हेड कांस्टेबल सुशील कुमार, कांस्टेबल राजवीर, धीरज, संतोष, ललित, अमित , गंभीर , नरेश पंत , इमरान, लोकेन्द्र, आशीष शर्मा, विपिन , और अवनीश आदि शामिल थे ।

Youth icon Yi National Creative Media Report,

By Editor

5 thoughts on “वाह पण्डित जी ! पहले पूजा, फिर जजमान के ही घर चोरी का प्लान .. ! पुलिस के हाथ लगी सफलता ।”
  1. पुलिस द्वारा उत्तम कार्य बधाइयाँ

  2. वाकही पुलिस ने महज चंद घंटो में ही ईन्हे दबोच लिया ।

  3. मजेदार बात पंडित सपेरा है जो ठग पण्डित है । आप लोग पूरा लेख लिंक को ओपन करके पढियेगा जरूर 🙂

  4. Best News in favor of the society to alert by known and unknown both.

    Best work and speedy by our UK Police SOG team.

Comments are closed.