सुर्खियों में पहाड़ का लाल कबाड़ से जुगाड़ कर ग्रामीण ने कर दिया कमाल ! उत्तराखंड में चमोली जनपद के ग्रामीण आलम सिंह ने 1लाख की कीमत वाला मोटराइज्ड कार्टन को बना डाला महज 7 सौ रुपये में ।

Alam Singh : सुर्खियों में पहाड़ का लाल कबाड़ से जुगाड़ कर ग्रामीण ने कर दिया कमाल ! उत्तराखंड में चमोली जनपद के ग्रामीण आलम सिंह ने 1लाख की कीमत वाला मोटराइज्ड कार्टन को बना डाला महज 7 सौ रुपये में ।

  • बाजार में 1लाख के करीब है परदे की कीमत।
  • मात्र 700 रूपये खर्च कर बना दिया पर्दा
  • सिर्फ महानगरों में है मोटराइज्ड परदे के सप्लायर।
  • घाट में चल रही रामलीला में परदे का हुआ सफल परीक्षण।
Pankaj mandoli ,
सुर्खियों में पहाड़ का लाल कबाड़ से जुगाड़ कर ग्रामीण ने कर दिया कमाल ! उत्तराखंड में चमोली जनपद के ग्रामीण आलम सिंह ने 1लाख की कीमत वाला मोटराइज्ड कार्टन को बना डाला महज 7 सौ रुपये में ।
सुर्खियों में पहाड़ का लाल कबाड़ से जुगाड़ कर ग्रामीण ने कर दिया कमाल ! उत्तराखंड में चमोली जनपद के ग्रामीण आलम सिंह ने 1लाख की कीमत वाला मोटराइज्ड कार्टन को बना डाला महज 7 सौ रुपये में ।

चमोली।इन दिनों घाट में चल रही रामलीला के मंच पर लटका स्टेज पर्दा चर्चा का विषय बना हुआ है ,परदे की ख़ास बात यह है कि पर्दा इलेक्ट्रोनिक बटन के खुलता और बंद होता है ,घाट बाजार में ही स्वेटर बुनाई की दूकान चलाने वाले आलम सिंह नेगी ने बाजार में लाखों की लागत से मिलाने वाले परदे को अपनी दूकान में बैठे बैठे स्क्रब से बना डाला,मोटराइज्ड सिस्टम परदे को बनाने के लिए आलम सिंह ने मोटर वर्कशाप से खराब पड़ी बाइको की टाइमिंग चेन और गाड़ी के वाईपरो की मोटर से इलेट्रॉनिक सर्किटों को जोड़ कर पर्दा बना डाला.

रामलीला कमेटी के लोगो का कहना है की हमने मोटराज्ड परदे के दाम बाजार में पूछे थे ,लेकिन परदे के सप्लायरों ने एक लाख के करीब दाम बताया ,जिसके बाद घाट बाजार के आलम सिंह ने मोटराइज्ड पर्दा बनाने के लिए हामी

परदे के सप्लायरों ने एक लाख के करीब दाम बताया ,जिसके बाद घाट बाजार के आलम सिंह ने मोटराइज्ड पर्दा बनाने के लिए हामी भर दी ,और रामलीला सुरु होने से एक दिन पहले मोटराइज्ड सिस्टम पर्दा बनाकर तैयार भी कर दिया ।
परदे के सप्लायरों ने एक लाख के करीब दाम बताया ,जिसके बाद घाट बाजार के आलम सिंह ने मोटराइज्ड पर्दा बनाने के लिए हामी भर दी ,और रामलीला सुरु होने से एक दिन पहले मोटराइज्ड सिस्टम पर्दा बनाकर तैयार भी कर दिया ।

भर दी ,और रामलीला सुरु होने से एक दिन पहले मोटराइज्ड सिस्टम पर्दा बनाकर तैयार भी कर दिया ।बता दे की जनपद में मोटराइज्ड सिस्टम वाला यह पहला पर्दा बना है ।

 

यही नहीं आलम सिंह ने अपनी दुकान पर स्वेटर बनने के लिए तागे के गोले बनाने की इलेक्ट्रॉनिक मशीन भी तैयार की है,जिसमे की हाथ से गोले बनाने की तुलना में 50 फसदी ज्यादा तेजी से गोले बन जाते है ,जिससे समय की बचत हो जाती है ।

 

By Editor