Youth icon Yi National Creative Media Report
Youth icon Yi National Creative Media Report

Social Responsibility : केदारघाटी मे उपहार समिति कर रही है, उपकार । 

Pankaj mandoli , Srinagar , Yi Report
Pankaj mandoli , Srinagar , Yi Report
केदारघाटी मे उपहार समिति गरीब व निराश्रितों के लिये वाकई उपहार का कार्य कर रही है। संस्था ने गठन से बादपांच गरीब निर्धन तथा निराश्रित बेटियों की शादियां ही नहीं करवाई हैं,
उपहार समिति के सदस्य
उपहार समिति के सदस्य
बल्कि चार विधवा, बिकलांगों की मासिक पेंशन भी  लगाई है। इसके साथ ही तीन अन्य बेटियां जो आर्थिक स्थिति की विपन्नता के चलते शिक्षा बरकरार नहीं रख पा रही थी, उनकी शिक्षा , स्टेशनरी तथा यूनीफार्म का खर्चा भी समिति उठा रही है। जुलाई 2016 में  समिति का पंजीकरण 21 , 1860 में किया गया है। गठन के कुछ माह तक समिति से महज पांच लोग ही जुड़े थे, इसके बाद समिति के सामाजिक कार्यों को देखते हुये लगातार लोगों के जुड़ने का सिलसिला जारी है। अभी तक संस्था से 27 लोग जुड़ चुके हैं। समिति से जुड़ने वाला व्यक्ति प्रतिमाह 500 की धनराशि समिति के खाते में जमा करता है। समिति से न केवल मुम्बई तथा दिल्ली जैसे महानगरों से लोग जुड़े हैं, बल्कि अमेरिका तथा सिंगापुर जैस विकसित देशों से भी जुड़े हैं। अभी तक समिति ने भैंसारी , धानी, नारायणकोटी, तुलंगा, ल्वाणी तथा बीरों देवल में छः गरीब व निराश्रित बेटियों की शादी में आर्थिक सहयोग प्रदान किया है। जिसमें पीडि़तों के लिये सोने के गहने, राशन, कपड़े, वर्तन आदि उपहार स्वरूप दिये हैं। समिति के अध्यक्ष बिपिन सेमवाल, कोषाध्यक्ष मोहन विष्ट, सचिव दिनेश उनियाल तथा उपाध्यक्ष सुनीता वशिष्ट हैं, साथ ही 23 अन्य सदस्य जुड़े हैं। समिति के अध्यक्ष बिपिन सेमवाल ने कहा कि सभी लोग प्रतिमाह पांच सौ रूपये की धनराशि समिति के खाते में जमा करते हैं । एकमुश्त राशि जमा होने पर इस धनराशि को गरीबों में आंवटित किया जाता है। उन्होने कहा कि भविष्य में समिति ऐसे ही गरीब व निराश्रित लोगों की मदद करेगी।

Youth icon Yi National Creative Media Report 21.04.2016

By Editor

One thought on “Social Responsibility : केदारघाटी मे उपहार समिति कर रही है, उपकार ।”
  1. बेहतरीन और सराहनीय प्रयास। कहीं ना कहीं समाज को आईना दिखा दिया आप लोगों ने । जहाँ आज समाज अपने हित के आगे अन्य किसी की नहीं सोचता। वहां ये सब देवदूत से कम नहीं।

Comments are closed.