हल्द्वानी की गुलमोहर गर्ल को मिलेगा इस साल पर्यावरण के क्षेत्र में यूथ आइकॉन वाई. आई. नेशनल अवार्ड ।  संघर्षो से जूझती तनुजा के रचनात्मक जीवन ने समाज में में हर वर्ग  को किया प्रभावित ।  Youth icon Yi National Award 2018 Dehradun . Tanuja Joshi
हल्द्वानी की गुलमोहर गर्ल को मिलेगा इस साल पर्यावरण के क्षेत्र में यूथ आइकॉन वाई. आई. नेशनल अवार्ड ।  संघर्षो से जूझती तनुजा के रचनात्मक जीवन ने समाज में में हर वर्ग  को किया प्रभावित ।  Youth icon Yi National Award 2018 Dehradun . 
प्रतिभाओं का सम्मान यूथ आइकॉन की पहचान । 

हल्द्वानी की गुलमोहर लेडी को मिलेगा इस साल पर्यावरण के क्षेत्र में यूथ आइकॉन वाई. आई. नेशनल अवार्ड । 

संघर्षो से जूझती तनुजा के रचनात्मक जीवन ने समाज में में हर वर्ग  को किया प्रभावित । 

Youth icon Yi National Award 2018 Dehradun . 

हल्द्वानी की गुलमोहर गर्ल को मिलेगा इस साल पर्यावरण के क्षेत्र में यूथ आइकॉन वाई. आई. नेशनल अवार्ड ।  संघर्षो से जूझती तनुजा के रचनात्मक जीवन ने समाज में में हर वर्ग  को किया प्रभावित ।  Youth icon Yi National Award 2018 Dehradun . Tanuja Joshi
हल्द्वानी की गुलमोहर लेडी को मिलेगा इस साल पर्यावरण के क्षेत्र में यूथ आइकॉन वाई. आई. नेशनल अवार्ड ।  

 

 

 

शिवालिक की पहाड़ियों का प्रवेश द्वार हल्द्वानी शहर को  खूबसूरती के मामले में देश और दुनियां में  खास पहचान दिलाने में जुटी हैं तनुजा जोशी । तनुजा का पर्यावरणीय अभियान कागजी खानापूर्ति या बड़े बड़े मंचों से वाह वाही लूटनेभर का नहीं है । सही मायने में तनुजा जमीन से जुड़ी पर्यावरणविद है जिसने अपने अभियान के तहत हल्द्वानी शहर में बेहद कम समय में 10 हजार गुलमोहर के पौधे लगा दिए हैं । इनका अभियान हल्द्वानी शहर को अगले 3 से 5 वर्षों के भीतर एक नई पहचान देने वाला है । जिससे हल्द्वानी देशी विदेशी पर्यटकों के लिए भी आकर्षण का केंद्र बनेगा । तनुजा के इस अभियान के चलते उन्हें एक नई पहचान गुलमोहर लेडी के रूप में मिली है  । 

 Youth icon Yi National Award
Youth icon Yi National Award

हल्द्वानी की रहने वाली तनुजा जोशी की ज़िन्दगी भी संघर्ष भरी है । अपने दो भाइयों की हत्या के बाद इंसाफ की लड़ाई लड़ने वाली तनुजा जोशी का ज्यादा वक्त कोर्ट कचहरी में बीता,भाइयो के हत्यारों को उम्र कैद की सजा हुए,इसी आपा धापी में खुद की निजी जिंदगी में भी ग्रहण लग गए ।  हिम्मत नही हारी और अपने बेटे को शानदार तालीम दी । 

पिछले तीन सालों से तनुजा जोशी ने हल्द्वानी शहर में गुलमोहर पौधरोपण के दो हज़ार पेड़ हर साल लगाने का लक्ष्य बनाया । हल्द्वानी शिवालिक की पहाड़ियों का प्रवेश द्वार है यहां राष्ट्रीय खेल होने है लिहाजा शहर गुलमोहर से खूबसूरत लगे इस ओर तम्माम स्कूल और समाजसेवी संस्थाओं को साथ लेकर सड़क किनारे,पार्कों में, आवासीय कॉलोनियों में गुलमोहर के पौधों को लगाने की मुहिम शुरू की जोकि अब रंग लाने लगी है । तनुजा जोशी जो पेड़ लगाती है या लगवाती है वो करीब डेढ़ साल पुराना पौधा होता है और उसकी देखभाल भी सुनिश्चित की जाती है । आज शहर हल्द्वानी में लक्ष्य से ज्यादा करीब दस हज़ार गुलमोहर के पौधे लगाए जा चुके है जिसकी वजह से तनुजा जोशी को गुलमोहर लेडी के नाम से भी जाना जाने लगा है । 

हल्द्वानी की गुलमोहर गर्ल को मिलेगा इस साल पर्यावरण के क्षेत्र में यूथ आइकॉन वाई. आई. नेशनल अवार्ड ।  संघर्षो से जूझती तनुजा के रचनात्मक जीवन ने समाज में में हर वर्ग  को किया प्रभावित ।  Youth icon Yi National Award 2018 Dehradun . Tanuja Joshi

तनुजा के इस रचनात्मक योगदान के लिए शहर हल्द्वानी को गुलमोहर सिटी बनाये जाने पर यूथ आइकॉन अवार्ड 2018 से सम्मानित किया जाएगा ।

इस उम्मीद के साथ कि वह पर्यावरण संरक्षण के कार्य को ज़िन्दगी भर अपना साथ देती रहेंगी और यूँ ही अपने अभियान से समाज को जागृत करती रहेंगी ।

 

By Editor

One thought on “हल्द्वानी की गुलमोहर लेडी को मिलेगा इस साल पर्यावरण के क्षेत्र में यूथ आइकॉन वाई. आई. नेशनल अवार्ड ।  संघर्षो से जूझती तनुजा के रचनात्मक जीवन ने समाज में में हर वर्ग  को किया प्रभावित ।  Youth icon Yi National Award 2018 Dehradun”
  1. महान कार्य पर्यावरण पर इसी तरह हमारे पहाड़ के युवाओ को आगे आना चाहिए ।

Comments are closed.